शेखपुरा: आरसेटी में ब्यूटी पार्लर प्रबंधन का 30 दिवसीय प्रशिक्षण शुभारंभ 

filter: 0; fileterIntensity: 0.0; filterMask: 0; captureOrientation: 0; brp_mask:0; brp_del_th:null; brp_del_sen:null; delta:null; module: photo;hw-remosaic: false;touch: (-1.0, -1.0);sceneMode: 8;cct_value: 0;AI_Scene: (-1, -1);aec_lux: 0.0;aec_lux_index: 0;albedo: ;confidence: ;motionLevel: -1;weatherinfo: null;temperature: 47;

👇खबर सुनने के लिए प्ले बटन दबाएं

मंगलवार को गिरिहिंडा चौक स्थित आरडी कॉलेज के समीप स्थित केनरा बैंक ग्रामीण स्वरोजगार प्रशिक्षण संस्थान के प्रांगण में ब्यूटी पार्लर प्रबंधन का 30 दिवसीय प्रशिक्षण 35 प्रशिक्षणार्थियों के साथ प्रारंभ किया गया। प्रशिक्षण का उद्घाटन मुख्य अतिथि चेवाड़ा प्रखंड के श्रम पदाधिकारी स्नेहा शिवानी के द्वारा दीप प्रज्वलित कर किया गया। उद्घाटन समारोह का संचालन निदेशक बालाजी धरणीधरण की अध्यक्षता में संकाय सदस्य अभिनव प्रसून ने किया।  तदोपरांत मुख्य अतिथि के द्वारा प्रशिक्षणार्थियों को संबोधित किया गया एवं 30 दिवसीय प्रशिक्षण के लाभ से अवगत कराया गया एवं मुख्य अतिथि के द्वारा सभी को बताया गया कि सभी श्रम कार्यालय में जाकर अपना पंजीकरण कराएं, जिससे लाभार्थी को 15 तरह का लाभ मिल सकें। निदेशक के द्वारा बताया गया कि सभी प्रशिक्षणार्थी प्रशिक्षण प्राप्त कर अपना खुद का रोजगार स्थापित करें और नियमित सभी 30 दिन प्रशिक्षण में आइए। वरीय संकाय सदस्य  रघुवीर कुमार  के द्वारा प्रशिक्षणार्थियों को उद्यमिता के गुणों एवं उनके महता से अवगत कराया गया। सभी प्रशिक्षणार्थी अति उत्साहित दिखे प्रशिक्षण उपरांत अपना खुद का रोजगार स्थापित करने हेतु प्रतिबंध दिखे। इस अवसर पर कार्यालय सहायक साक्षी प्रिया एवं रविशंकर कुमार उपस्थित थे। 

स्वरोजगार की इच्छा होने पर आरसेटी सहयोग देने के लिए तैयार 
वहीं, संस्थान के वरीय संकाय सदस्य रघुवीर कुमार ने कहा कि फैशन के इस दौर ने रोजाना नित-नए परिधान का निर्माण हो रहा है। गांव से लेकर शहरों, महानगरों तक इसका एक बड़ा बाजार है। इसकी शुरुआत आप चाहें तो अपने घर से कम पूंजी के साथ ही शुरू कर सकते हैं। बेहतर काम दिखने पर खुद ग्राहकों की संख्या बढ़ती जाती है। स्वरोजगार की इच्छा होने पर आरसेटी भी मदद के लिए सहयोग देने के लिए हमेशा तैयार है। वहीं, आने वाले दिनों में गाय पालन, बकरी पालन, मुर्गी पालन, मछली पालन, मोबाइल मरम्मत, इलेक्ट्रिसीयन, सिलाई, मोटर साईकिल मरम्मत इत्यादि का प्रशिक्षण भी होगा। जिले के लोग इसका प्रशिक्षण लेकर स्वावलंबी बने और सभी लोग प्रशिक्षण लेकर लाभ प्राप्त करें। 
खबरें और भी है—https://youtu.be/u5x695n8ABM?si=M__qySU7-QgeZwd8

Leave a Comment