DESK: बिहार में नीतीश-लालू का गठबंधन टूटा: नीतीश कल 10 बजे इस्तीफा सौंपेंगे, सूत्रों के हवाले से खबर; शाम को फिर शपथ ले सकते हैं

👇खबर सुनने के लिए प्ले बटन दबाएं

इंडिया गठबंधन के सूत्रधार और मोदी के खिलाफ विपक्ष को एक मंच देने वाले बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के एक बार फिर से पाला बदलने की अटकलें तेज हैं. एक तरफ नीतीश ने जदयू के सभी विधायकों को शुक्रवार तक पटना आने का निर्देश दिया तो वहीं शनिवार यानी कि आज अपने आवास पर सभी की बैठक भी बुलाई है.

नीतीश कल दे सकते हैं इस्तीफा

सूत्रों के अनुसार नीतीश कुमार आज इस्तीफा नहीं देंगे. कल मुख्यमंत्री आवास में 10 बजे विधायकों,सांसदों और पार्टी नेताओं के साथ नीतीश बैठक करेंगे. रविवार को 12 बजे तक नीतीश इस्तीफा दे सकते हैं और साथ ही बहुमत का समर्थन पत्र भी राज्यपाल को सौंप सकते हैं.

कल ही होगा शपथ ग्रहण समारोह

जानकारी इस बात की भी है कि कल ही शाम 4 बजे राजभवन में नई सरकार का शपथ ग्रहण होगा. आज रात तक भाजपा का समर्थन पत्र मुख्यमंत्री आवास पहुंच जाएगा. भाजपा आज अपने विधायक दल की बैठक में अपने विधायकों से समर्थन पत्र पर हस्ताक्षर कराएगी. इधर आज नीतीश कुमार ने अपने करीबी और विश्वस्त नेताओं की बैठक मुख्यमंत्री आवास बुलाई है, जिसमें अशोक चौधरी, विजय चौधरी, संजय झा जैसे नेता सीएम आवास पहुचेंगे.

बिहार विधानसभा का वर्तमान गणित

इस समय बीजेपी के पास 78 विधायक हैं. वहीं जदयू के पास 45 विधायक हैं. जीतन राम मांझी की पार्टी हम के पास 4 विधायक हैं. वहीं आरजेडी के पास 79 विधायक हैं, कांग्रेस के पास 19, लेफ्ट के 16, एआईएमआईएम के 1 और निर्दलीय एक विधायक है.

बीजेपी-आरजेडी की भी बैठक

वहीं दूसरी तरफ बीजेपी और आरजेडी ने भी बैठक बुलाई है. जदयू की बैठक में नीतीश कुमार अपने अगले कदम से पार्टी के नेताओं को अवगत करता सकते हैं. साथ ही ऐसा कदम उठाने की वजह से भी सभी को रुबरु करवा सकते हैं. वहीं बिहार में सियासी उठापटक के बीच बयानबाजी जारी है. जदयू एमएलसी नीरज कुमार के महागठबंधन को लेकर तेवर सख्त दिखे.

JDU MLC ने सब कर दिया साफ

नीरज कुमार ने आरजेडी नेता मनोज झा के सीएम से स्पष्टीकरण देने के बयान पर नाराजगी जाहिर करते हुए कहा कि किस बात का स्पष्टीकरण. नीतीश कुमार राज्य के निर्वाचित मुख्यमंत्री हैं. वे पद के आकांक्षी नहीं हैं. जिनके मन में कोई कन्फ्यूजन है वो जानें. हमारे मन के अंदर कोई कन्फ्यूजन नहीं है. जिनको कन्फ्यूजन है उनको उनकी सोच मुबारक हो.

तेजस्वी यादव पर साधा निशाना

साथ ही उन्होंने राज्यपाल के कार्यक्रम से तेजस्वी की दूरी पर भी हमला किया और कहा कि राज्यपाल राज्य के प्रथम नागरिक हैं. संवैधानिक प्रधान हैं और ऐसी स्थिति में हमारी अपेक्षा रहेगी कि उनके कार्यक्रम में जाना चाहिए. लेकिन अगर कोई नहीं जाता है तो ये उनका नजरिया है.

कांग्रेस पर नीरज कुमार का तंज

उन्होंने कांग्रेस पर हमला करते हुए कहा हम तो इंडिया अलाइंस के सृजनकर्ता थे. किसी पद के आकांक्षी नहीं थे, कोई पद नहीं चाहिए था. डेढ़ वर्ष तक इस दिशा में लगातार हमलोग प्रयास करते रहे. हमें किसी पद का उम्मीदवार बनाया जाए इसकी हमें कोई जरूरत नहीं है.

बदल गए नीरज कुमार के सुर

वहीं सुशील मोदी के बयान पर नीरज ने कहा कि सुशील मोदी एक गंभीर राजनेता हैं. कौन उनके बयान को किस रूप में ले रहा है वो जाने. इतना तो साफ है कि उनके बयान को हल्के में नहीं लिया जा सकता. इसलिए मीडिया उनके बयान को काफी गंभीरता से ले रही है.

 

तेजस्वी बोले- जनता के लिए काम करना है

RJD विधायक दल की बैठक में तेजस्वी यादव ने कहा कि तस्वीर जो भी हो, हमें जनता मालिक के लिए काम करना है। जनता मालिक के बीच जाकर बताना है कि हमने उनके लिए क्या-क्या किया। लाखों नौकरी दिलवाई। रोजगार का सृजन करवाया। संविदाकर्मियों का मानदेय बढ़वाया। जनता हम लोगों की ताकत है। जनता मालिक की ताकत से हम और आप लोग है। हम लोगों की ताकत हैं। अपने आदर्श को नहीं भूलना है। अपने मालिक के लिये लड़ना है।

 

 

Leave a Comment