शेखपुरा: नशा जीवन में मजा नहीं, बल्कि सजा दिलाने वाला वह गुप्त शत्रु है: बीके राजीव

👇खबर सुनने के लिए प्ले बटन दबाएं

दो दिवसीय नशा मुक्त भारत अभियान प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय की खाण्डपर शाखा द्वारा शेखपुरा जिला के विभिन्न स्थानों पर कार्यक्रम का आयोजन किया गया। जिसके तहत बरबीघा प्रखंड अंतर्गत पिंजड़ी, फरीदपुर, रामाधीन महाविद्यालय शेखपुरा, सदर अस्पताल,  जवाहर नवोदय विद्यालय, दल्लु चौक, फायर ब्रिगेड ऑफिस, नगर परिषद शेखपुरा, कमासी,  मध्य विद्यालय कमासी में स्थानीय ग्रामीणों, अधिकारियों, कर्मियों को नशा से दूर रहने का संकल्प दिलाया गया। नशा मुक्ति विशेषज्ञ बीके राजीव भाई ने ब्रह्माकुमारीज के मुख्यालय माउंट आबू राजस्थान से आई हुई मोबाइल वैन द्वारा सभी को जागरूक करते हुए बताया कि नशा जीवन में मजा नहीं, बल्कि सजा दिलाने वाला वह गुप्त शत्रु है, जिसे आज का मानव अपना दोस्त समझ रहा है। यदि इस समाज को ऐसे शत्रु से बचाना है, तो मनुष्य के अंदर छिपी हुई अच्छाइयों को उसे पहचानना होगा। जिसमें राजयोग अति कारगर सिद्ध हुआ है। जिस किसी ने इसे अपने जीवन में धारण किया, वह मनुष्य दूसरों के लिए प्रेरणा स्रोत बन जाता है और समाज के उत्थान में एक अहम भूमिका अदा कर सकता है। उन्होंने आगे राजयोग के कुछ कारगर टिप्स देते हुए  सभी को अपने जीवन में इसे अवश्य ही धारण करने का मार्ग प्रदर्शित किया। इस अवसर पर सभी ने सामूहिक शपथ लेते हुए इसका पालन अपने पूरे जीवन काल में करते रहने का वादा किया। उनके द्वारा प्रोजेक्टर शो द्वारा वीडियोज और चित्र प्रदर्शनी दिखाते हुए बताया कि हमारे युवाओं को मोबाइल और नशीले पदार्थों का भयानक वायरस पकड़ रहा है। यदि आज का युवा इससे सचेत ना हुआ तो अपने ही हाथों अपने सुंदर भविष्य को तबाह कर लेगा, जो हम सबके लिए सबसे बड़ा खतरा है।

नशा छोड़ने हेतु लोगों को किया प्रेरित 
बीके राजीव भाई ने अपने वक्तव्यों में उन्होंने आगे बताया कि यदि हमारा युवा अपने सत्य स्वरूप को पहचान लें, जो कि अनेक रचनात्मक और अनंत शक्तियों का भंडार है तो हमारा भविष्य सुरक्षित और सुंदर होगा। सभी को सुन्दर रचनात्मक और रुचिदायक क्रीड़ाओं के माध्यम से स्वप्रेरणा का प्रशिक्षण सिखाकर रोज़ाना उसका अभ्यास करने से अपने जीवन में एक सकारात्मक नशे को अवश्य धारण करने की राय दी। ताकि हमारा जीवन खुशियों से भरपूर हो जाए तथा सभी बच्चों को अपने अपने करीबी संबंधियों को नशा मुक्त करने के लिए प्रेरित करते हुए कुछ कारगर उपायों से भी वाकिफ कराया। जैसे अपने संबंधियों से कहना कि हम आपसे बहुत प्यार करते हैं और यदि आपको कैंसर हो जाए तो हमारी देखभाल कौन करेगा, इसलिए आज से आप कोई भी नशीले पदार्थ का सेवन नहीं करेंगे, दूसरा यदि वह ना छोड़े तो उन्हें कहना की हम आपसे बात नहीं करेंगे, तीसरा यदि आप नहीं छोड़ेंगे तो हम खाना नहीं खाएंगे, चौथा यदि आप नशे नहीं छोड़ेंगे तो हम स्कूल नहीं जाएंगे आदि टिप्स दिए। इन सभी कार्यक्रमों का सफल आयोजन में ब्रह्माकुमारीज शेखपुरा टीम की राजयोगिनी बहन अनु, बीके संजय और बीके धनंजय भाई का अथक सहयोग रहा।

Leave a Comment