SHEIKHPURA: “एसिड हमलों के पीड़ितों के लिए विधिक सेवा योजना” विषय पर किया गया जागरूक

👇खबर सुनने के लिए प्ले बटन दबाएं


रविवार को जिला विधिक सेवा प्राधिकार शेखपुरा की ओर से “एसिड हमलों के पीड़ितों के लिए विधिक सेवा योजना” के विषय पर विधिक जागरूकता का आयोजन सदर अस्पताल शेखपुरा में किया गया। जिसमें लीगल ऐड काउंसिल के डिप्टी चीफ अधिवक्ता गुरुवेश नंदन एवं डिफेंस अधिवक्ता तरुण कुमार ने बताया कि हमारे देश में एसिड हमला आम तौर पर महिलाओं के ऊपर ज्यादा होते हैं, जिसका मुख्य कारण विवाह के प्रस्ताव अथवा यौन प्रस्ताव से इंकार करना होता है। एसिड अटैक सिर्फ चेहरे अथवा शरीर को विकृत नहीं करते, अपितु यह पीड़ितों के लिए स्थायी मनोवैज्ञानिक क्षति का कारण बन जाता है। जो कि पीड़ितों पर अधिक व्यापक और गहरा प्रभाव डालती है। एसिड हमले के रोकथाम के लिए उच्चतम न्यायालय ने आदेश दिया है कि एसिड बिक्री का सही लेखा जोखा रखा जाय। साथ ही खरीदने वाले का फोटोयुक्त पहचान पत्र भी लिया जाय। दूसरी तरफ एसिड हमले के पीड़ितों के उचित उपचार, देखभाल और पुनर्वास की भी व्यवस्था की जाय, जिसमें विधिक सेवा प्राधिकरण पीड़ितों की मदद करती है। पीड़ितों का इलाज सभी प्राइवेट अस्पताल करें। साथ ही पीड़ितों को भोजन- बिस्तर और सर्जरी सहित पुरा उपचार प्रदान किया जाय। अगर कोई क्लिनिक उपचार करने से इंकार करता है तो उसके विरुद्ध कारवाई किया जाना चाहिए।

एसिड पीड़ितों को तीन लाख का मिलेंगे सरकारी सहायता
जिला विधिक सेवा प्राधिकार पीड़ितों की सहायता के लिए हमेशा तत्पर है। जिसमें प्राधिकार पीड़ितों को 300000/ तीन लाख रुपए की सरकारी सहायता दिलाने मे मदद करती है। इसके अलावे क्षतिपूर्ति की दावा किये जाने के मामले जिला विधिक सेवा प्राधिकार द्वारा उठाया जाता है। जिसमें जिला न्यायाधीश, जिला पुलिस अधीक्षक, सिविल सर्जन अथवा नामित पदाधिकारी कि एक कमिटी होती है, जो बोर्ड के रूप में कार्य करती है। इसके अलावे जिला विधिक सेवा प्राधिकार द्वारा प्राथमिकता के आधार पर कानूनी सहायता देती है एवं पीड़ितों को क्षतिपूर्ति योजना का लाभ आसानी से दिलाती है। वहीं, डिफेंस अधिवक्ता तरुण कुमार ने सभी से अपील किए कि आप लोगों के संज्ञान में कोई भी छोटी या बड़ी ऐसी घटना घटती है तो उस घटना की जानकारी जिला विधिक सेवा प्राधिकार शेखपुरा को अवश्य दें ताकि प्राधिकार पीड़ितों को आर्थिक और न्यायिक सहायता आसानी से मिल सके। इसके साथ ही यह भी जानकारी दी गई कि 13 जुलाई को राष्ट्रीय लोक अदालत लग रहा है, जिसमें सभी सुलाहनीय मुकदमे का निपटारा बिना खर्च के आसानी से मौके पर ही कर दिया जायेगा। आप सभी लोग इसमें भाग लेकर लोक अदालत का लाभ उठाएं। इस मौके पर सदर अस्पताल के चिकित्सक डॉ.शैलेंद्र कुमार, पारा लीगल वोलंटियर प्रभात कुमार एवं अन्य लोग मौजूद रहे।

Leave a Comment