शेखपुरा:जिले में शीतलहर चलने के बावजूद विद्यालय व आंगनबाड़ी केंद्र खुले रहे, अधिकारी बेपरवाह

👇खबर सुनने के लिए प्ले बटन दबाएं

अंधेर नगरी चौपट राजा…शायद ही यह कहानी चरितार्थ हो, लेकिन शेखपुरा जिला में कुछ ऐसा ही देखने को मिल रहा है. एक तरफ जहां जिलाधिकारी जे.प्रियदर्शनी को जिला मुख्यालय क्या कुछ हो रहा है, उससे कोई मतलब नहीं है. वहीं, जिला शिक्षा पदाधिकारी ओमप्रकाश सिंह भी शिक्षण संस्थानों के प्रति बेपरवाह बने हुए है. बता दें कि पूरे शेखपुरा जिले में 10-15 किमी प्रतिघंटा की गति से पछुआ हवा चल रही है। जिसके प्रभाव से अधिकतम तापमान में 18° सेंटिग्रेड की गिरावट और न्यूनतम तापमान 8° सेंटिग्रेड से नीचे आ गया है। बर्फीली पछुआ हवा के कारण जिले में कड़ाके की ठंडी पड़ रही है। जिससे लोगों को घर से बाहर निकलने की हिम्मत नहीं हो रही है। इसके बावजूद जिले के आंगनबाड़ी व विद्यालय खुले हुए हैं। जहां भीषण ठंड के बीच छोटे-छोटे बच्चे पढ़ने जाने पर मजबूर हैं। गौरतलब हो कि ठंड की वजह से बच्चों के स्वास्थ्य पर पड़ने वाले प्रतिकूल प्रभाव को देखते हुए पटना समेत कई जिलों में 8 वीं कक्षा तक शैक्षणिक कार्य पर रोक लगाते हुए छुट्टियां घोषित कर दी गई है। ऐसे में शेखपुरा जिला प्रशासन द्वारा विद्यालय के खुला रहने पर ठंड के चलते बच्चों के स्वास्थ्य पर प्रतिकूल असर पड़ने की पूरी संभावना है। जिससे अभिभावकों ने जिला प्रशासन के प्रति गहरी नाराजगी जताई है।

Leave a Comment