नप में लूट की छूट; पेयजलापूर्ति पाइप बिछाने में गुणवत्ता से किया जा रहा है खिलवाड़

👇खबर सुनने के लिए प्ले बटन दबाएं

शेखपुरा नगर परिषद द्वारा शहरवासियों को पेयजलापूर्ति के लिए बिछाई जा रही पाइप लाइन में मानकों का उल्लंघन करते हुए लूट-खसोट मचाया जा रहा है। योजना के तहत शेखपुरा स्टेशन रोड से गिरिहिंडा की ओर जानेवाली सड़क में बस स्टैंड के पास पीडब्ल्यूडी सड़क किनारे गड्ढा खोदकर पाइप बिछाने का काम किया जा रहा है। जिसमें मानकों का ख्याल नहीं रखा गया है। नियमानुकूल सड़क के पांच फ़ीट की दूरी पर पांच फ़ीट गहरा गड्ढा खोदकर पाइप बिछाया जाना है। लेकिन ठीकेदार के द्वारा मनमानी तरीके से सड़क से सटे डेढ़ से दो फ़ीट गड्ढ़ा खोदकर ही पाइप बिछाया जा रहा है। जिस पर सड़क मार्ग से गुजरने वाली हैवी वाहनों के गुजरने से पाइप कभी भी फट सकता है। इतना ही नहीं जो पाइप बिछाया जा रहा है वह भी मानक के अनुकूल नहीं है। स्थानीय लोगों ने बताया कि यह सड़क जिले की महत्वपूर्ण सड़क है जिससे होकर सौ-सौ टन वाला ट्रक प्रतिदिन गुजरता है तथा वाहनों की बढ़ती संख्या को देखते हुए सड़क के दोनों तरफ तीन-तीन चौड़ाई बढ़ाया जाना आवश्यक हो गया है। ऐसे में पथ निर्माण विभाग सड़क की चौड़ाई बढ़ाने के लिए बॉक्स कटिंग करता है तो नगर परिषद द्वारा बिछाई गई पाइप लाइन अपने आप उखड जायेगी। 

50 लाख की लागत से बिछाए जा रहे है पाइपलाइन 
लगभग 50 लाख की लागत से बिछाये जा रहे पाइपलाइन बेकार हो जाएगी। इतना ही नहीं सड़क किनारे गए खोदे गए गड्ढे में गिरने से कोई दुर्घटना न हो इसके लिए न कोई सेफ्टी टेप लगाए जा रहे है और न ही पाइप बिछाने के वक्त विभाग का कोई इनजियर मौजूद रहता है। सारा काम रात के अँधेरे में होता है जिसे देखने वाला कोई नहीं है। इस संबंध में नगर परिषद के कनीय अभियंता ने बताया कि अभी काम होने दीजिए जांच में पकड़ायेगा तो बिल रोक दिया जाएगा। मामला चाहे जो भी हो ठीकेदार का बिल रोकना इलाज नहीं हो सकता। इलाज यह है कि विभाग सूझबूझ और दूरदर्शिता दिखाते हुए तथा भविष्य में ट्रैफिक लोड को देखते हुए पाइप बिछाने का कार्य ताकि इसका दूरगामी फायदा लोगों को सकें। 
बतासे की तरह ही बिखर जा रहे है नप की सड़कें 
नगर परिषद द्वारा किए जा रहे कार्यों में गुणवत्ता कोई मायने नहीं रखता। इसका उदहारण उनके द्वारा बनायीं जा रही पीसीसी सड़कें है। जाखराज स्थान से कॉलेज मोड़ की ओर जानेवाली सड़क में बनी एक नवनिर्मित कॉलोनी में हाल जे वर्षों में पीसीसी सड़क का निर्माण कराया गया था जो आज की तिथि में बतासे की तरह बिखर गए है तथा सड़क पूरा गड्ढा में तब्दील हो गया है। हसनगंज मोहल्ले में बनी सड़क का भी यही हाल है। शेखपुरा नगर परिक्षद क्षेत्र के अन्य मोह्हले में कराये जा रहे कार्यों में अगर गुणवत्ता की जांच कराई जाएँ तो बात स्पष्ट हो जायेगा की किस तरह से नियम एवं गुणवत्ता को ताक पर रखकर कार्य कराये जा रहे है।  
ख़बरें और भी है—https://youtu.be/AmIXtfEq-XM?si=i11mXmfoSOFldl_B

1 thought on “नप में लूट की छूट; पेयजलापूर्ति पाइप बिछाने में गुणवत्ता से किया जा रहा है खिलवाड़”

Leave a Comment