मधेपुरा:सरकारों को जवाबदेह ठहराने की शक्ति मीडिया के पास: सेराज अहमद कुरैशी

👇खबर सुनने के लिए प्ले बटन दबाएं

मधेपुरा: मधेपुरा जिला मुख्यालय स्थित कला भवन सभागार में इंडियन जर्नलिस्ट एसोसिएशन, मधेपुरा जिला इकाई एवं द रिपब्लिकन टाइम्स, डिजिटल हिन्दी दैनिक न्यूज पोर्टल के संयुक्त तत्वाधान में इंडियन जर्नलिस्ट एसोसिएशन का 6वां अंतराष्ट्रीय पत्रकार सम्मान-संगोष्ठी एवं महाधिवेशन व द रिपब्लिकन टाइम्स का 6वां स्थापना दिवस आयोजित किया गया। जिसमें संगोष्ठी वर्तमान परिस्थितियों में पत्रकारिता और पत्रकारों की दशा दिशा पर गम्भीर चिंतन मनन किया गया। कार्यक्रम की शुरुआत में डॉ. देवशीष बोस के तैलीचित्र पर पुष्प अर्पित कर श्रद्धांजलि दी गई। फिर कार्यक्रम के उद्घाटनकर्ता व अन्य अतिथियों द्वारा दीप प्रज्वलित कर विधिवत शुभारंभ किया गया।

 

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए मुख्य अतिथि इंडियन जर्नलिस्ट एसोसिएशन के राष्ट्रीय अध्यक्ष सेराज अहमद कुरैशी के नेतृत्व में चले कार्यक्रम में देश के विभिन्न राज्यों सहित नेपाल से आए पत्रकारों ने अपनी बात रखी। वर्तमान पत्रकारिता में मिशन की जगह कमीशन की कई स्तरों पर चर्चा में सबने चिंता जताई।

राष्ट्रीय अध्यक्ष सेराज अहमद कुरैशी ने कार्यक्रम में शामिल सैकड़ों पत्रकारों को संबोधित करते हुए कहा कि पत्रकारिता लोकतंत्र का चौथा स्तम्भ ही नहीं बल्कि जान है। इस पर समाज के सभी वर्गों के लोगों का विश्वास टीका हुआ है। जिसे कायम रखना सबकी जिम्मेदारी है। सार्वजनिक चर्चा को आकार, सत्ता को चुनौती और सरकारों को जवाबदेह ठहराने की शक्ति मीडिया के पास है। पत्रकारों को हो रही परेशानी पर भी बिंदुबार प्रकाश डाला।

राष्ट्रीय अध्यक्ष सेराज अहमद कुरैशी ने कहा कि संगठन लगातार पत्रकारों के हित में सतत संघर्षशील है। सरकार से मांग है कि वो भी अपने स्तर से पत्रकारों के प्रति गंभीर बने। वहीं उन्होंने अपने संबोधन मे पत्रकारों को बिना डरे सच्ची पत्रकारिता की अपील की। वरिष्ठ पत्रकार नेपाल सरकार के पूर्व मंत्री मोहम्मद जाकिर हुसैन ने पत्रकारिता को अफवाह मुक्त बनाए रखने पर बल देते हुए कहा कि पत्रकारिता सदैव समाज की जरूरत रहेगी, इसलिए इसकी साख बरकरार रहनी चाहिए।

मौके पर अतिथो का शॉल व स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया गया। द रिपब्लिकन टाइम्स के प्रधान संपादक रजिउर रहमान और अतिथि संपादक प्रसन्ना सिंह राठौर ने किया। देवाशीष बोस पत्रकारिता सम्मान से नवाजे गए सैकड़ों पत्रकार तथा सांस्कृतिक संध्या का शानदार आयोजन किया गया।


कार्यक्रम के उद्घाटनकर्ता पूर्व सांसद राजेश रंजन उर्फ पप्पू यादव राष्ट्रीय अध्यक्ष जनाधिकार पार्टी ने पत्रकारों को संबोधित करते हुए कहा कि पत्रकारिता एक मिशन है इसे कमीशन के लिए नहीं करें। पत्रकार अर्थ, ताकत, जाति व धर्म से प्रभावित होकर पत्रकारिता न करें। इस मौके पर कार्यक्रम के संयोजक द रिपब्लिकन टाइम्स के प्रधान संपादक सह इंडियन जर्नलिस्ट एसोसिएशन के प्रदेश महासचिव रजिउर रहमान, अति विशिष्ट अतिथि डॉ. परवेज़ आलम, विशिष्ट अतिथि अवध प्रदेश अध्यक्ष मो. अनवरुल हक, बिहार के प्रदेश इकाई अध्यक्ष रणधीर कुमार सम्राट, इस्तेयाक अहमद, प्रोफेसर फिरोज मंसूरी, पंकज झा, के. एम. राज, प्रीति यादव, रुही सिंह व मो सुलतान अख्तर, पंकज झा, के एम राज, प्रमोद झा, प्रेम शिला यादव, पत्रकार अमित कुमार अंशु, वसीम अख्तर, शुभकरण कुमार, रविकांत कुमार, महताब अहमद, इमदाद आलम, आरिफ़ आलम, मिथिलेश कुमार, प्रिंस कुमार, इरशाद आदिल आदि ने भी अपने विचार रखे। कार्यक्रम में नेपाल से आए लगभग दो दर्जन पत्रकारों की भूमिका चर्चा में रही। इस अवसर पर विभिन्न क्षेत्रों की प्रतिभा को सम्मानित किया गया इस अवसर पर सार्क इंटरनेशनल स्कूल व कारमेल स्कूल प्रांगण रंगमंच, नवाचार रंगमंडल, सृजन दर्पण, कला संगम, नट अंग क्लब, डी फार डी एकेडमी, स्टार रिवर डांस एकेडमी की प्रस्तुति अपनी सांस्कृतिक और धार्मिक विरासत से जोडती नजर आई जिसे दर्शकों ने सराहा। पत्रकारों को भी देबाशीष बोस पत्रकारिता सम्मान प्रशस्ति पत्र एवं स्मृति चिन्ह से नवाजा गया। कार्यक्रम के अंत में ईमानदार और सार्थक पत्रकारिता के संकल्प के साथ कार्यक्रम का समापन हुआ। संगठन के प्रदेश महासचिव रजिउर रहमान ने कहा कि मधेपुरा में अलग अलग प्रदेशों और देश से आए पत्रकारों का स्वागत सौभाग्य मुदित हुआ। कार्यक्रम का संचालन उद्घोषक सह स्वतंत्र पत्रकार हर्ष वर्धन सिंह राठौर ने किया। इस कार्यक्रम में करुणाकर राम त्रिपाठी, सरफराज आलम, मुजाहिद इस्लाम, राकेश सिंह, गुलाम सरवर, मोहम्मद मोख्तार, फरोग उर रहमान, प्रमोद चौधरी, मुजाहिद आलम, शाहिद अली, बिपिन कुमार आदि सैकड़ो पत्रकार मौजूद रहें ।

Leave a Comment