शेखपुरा में इस दिन आएगा मानसून, इसके बाद पूरे बिहार में होने लगेगी झमाझम बारिश

👇खबर सुनने के लिए प्ले बटन दबाएं

पूरा बिहार पिछले 15-20 दिनों से भीषण गर्मी से जूझ रहा है। मौसम विज्ञान केंद्र के अनुसार, इस साल 55 साल का रिकॉर्ड टूटा है। स्थिति यह रही कि दो-तीन जिलों का अधिकतम तापमान 48 डिग्री सेल्सियस के पार दर्ज किया गया। मौसम वैज्ञानिकों की माने तो बिहार के लोगों को अब कुछ ही दिनों के बाद भीषण गर्मी और लू से राहत मिलने वाली है। आइए जानते हैं इस बार का मानसून की पहली बारिश कब होगी ? मानसून के दौरान कितनी बारिश होगी और कब तक गर्मी से राहत मिलने वाली है। इन सवालों का जवाब देते हुए मौसम विज्ञान केंद्र के मौसम वैज्ञानिक ने बताया कि दक्षिण-पश्चिम मानसून बीते दो हफ्ते से बंगाल के इस्लामपुर में रुका है। बिहार तक आने में तीन से चार दिनों का समय लग सकता है। 15-16 जून को बिहार में मानसून सीमांचल के पूर्णिया से एंट्री कर सकता है। पूर्णिया और किशनगंज के रास्ते बिहार में मानसून प्रवेश करेगा। इसके बाद पूरे प्रदेश में दो से चार दिनों के भीतर मानसून की बारिश शुरू हो जाएगी। पिछले साल 2023 में बिहार में 17 साल के बाद मानसून की एंट्री समय से एक दिन पहले हो गई थी। मानसून 12 जून को राज्य में आ गया था। बिहार में मानसून 13-18 जून के बीच प्रवेश करता है। मौसम विभाग की मानें तो इस साल बिहार के अधिकांश जिलों में मानसून के दौरान सामान्य से ज्यादा बारिश होने की संभावना है। पूर्वानुमान के मुताबिक, 45 फीसदी अधिक बारिश हो सकती है। वहीं, कुछ जिलों में सामान्य बारिश होगी। पहले दो महीनों की तुलना में आखिरी दो महीनों में अधिक बारिश होगी।

शेखपुरा में 18 जून को आएगा मानसून 

16 जून: अररिया, किशनगंज, पूर्णिया और सुपौल में बारिश होगी।
17 जून: मधेपुरा, कटिहार, भागलपुर, बांका, मुंगेर खगड़िया, सहरसा, जमुई, मधुबनी और दरभंगा में बारिश होगी।
18 जून: पटना, नालंदा, वैशाली, मुजफ्फरपुर, सीतामढ़ी, शिवहर, लखीसराय, शेखपुरा, बेगूसराय, समस्तीपुर, और जहानाबाद में बारिश होगी।
19 जून: सारण, सिवान, गोपालगंज, पूर्वी और पश्चिमी चंपारण, भोजपुर, अरवल, औरंगाबाद, रोहतास, कैमूर और बक्सर में बारिश होगी। इसके बाद पूरे राज्य में बारिश होगी।

Leave a Comment