शेखपुरा: शादी में फिजूलखर्ची और लेन-देन करें बंद: फैजानुल होदा

👇खबर सुनने के लिए प्ले बटन दबाएं

रविवार को सदर प्रखंड के पिंड शरीफ में आयोजित 121वां तीन दिवसीय उर्स मेला का रंगारंग समापन हो गया है। इस मौके पर जदयू के पूर्व एमएलसी व राज्यसभा सदस्य गुलाम रसूल बलियावी, भाजपा नेता मुन्ना सिद्दीकी, मो.तबरेज, मो.मनौव्वर, मो.ताजुद्दीन, इस्लामिया हाई स्कूल के सचिव संविल हैदर, बंगाल से मौलाना सिद्दीक, झारखंड से मौलाना इमरानुल हक़, हज़ारीबाग से मो.सलाम, मो.अंज़र इमाम आदि ने शिरकत किए। बता दें कि शाकिरीया, कमरी, अहसानी एवं रिजवानुल होदा की याद में हर साल बिहार, बंगाल, झारखंड, कोलकाता, ओडिशा से सैकड़ों जायरीन पहुंचते हैं तथा मजार पर चादरपोशी कर मन्नतें मांगते हैं। इस बाबत पिंड शरीफ के पांचवें गद्दीनसी सैयद शाह फैजानुल होदा ने बताया कि उर्स मेले में बिहार, झारखंड, बंगाल, छत्तीसगढ़, महाराष्ट्र, केरल एवं अन्य राज्यों के बड़ी संख्या में जायरीन शामिल होते हैं। इस कार्यक्रम में मुस्लिम समुदाय के कई बड़ी हस्तियां शामिल हुए। मेला के प्रथम दिन नात खानी मिलादुन, तकरीर व चादरपोशी की गयी। दूसरे दिन नात खानी, तकरीर, उलमाईकराय, खोरमा एवं छोहाड़ा लुटाने की परंपरा थी। अंतिम दिन खानकाह में लंगरखानी, मजार पर दुआएं अदा की गई।

आधी रोटी खाइए, लेकिन बच्चों को जरूर पढ़ाइये

पिंड शरीफ के पांचवें गद्दीनसी सैयद शाह फैजानुल होदा ने कहा कि इस बार आए जायरीनों को  शादी-विवाह में बेफिज़ूल खर्च को कम करने, दहेज़ का लेन-देन बंद करने, शादी-विवाह में डीजे-पटाखे व फ़िज़ूलखर्च पर रोक लगाने, बरातियों के तादाद को कम करने, आधी रोटी खाइए, लेकिन बच्चों को जरूर पढ़ाइये, देश-दुनिया की भी जानकारी दें ताकि उसे कोई बेवकूफ नहीं बना सकें आदि का पैजाम दिया गया है। गौरतलब हो कि इस उर्स मेला में सिर्फ मुस्लिम समुदाय ही नहीं बल्कि हिंदू समुदाय के बड़ी संख्या में लोग शामिल होते हैं। मेला में हजारों लोगों की भीड़ जुटती है। मेला के दौरान चाट, समोसा, मिठाई, खिलोने, श्रृंगार की सैकड़ों दुकान सजी थी। उर्स मेला में स्थानीय समेत प्रदेश भर से आए लोग चादर चढ़ाकर अपनी मन्नत मांगते हैं।

Leave a Comment